सपनो में मुलाकात 
                         खवाबो में आज मुलाकात हुई
                         चंद ही सही कुछ बात तो हुई
                         आँखे खुली जब थी हमारी
                    खामोस सुबह से फिर मुलाकात हुई

दिल ने कहा कियो आज सुबहा हुई
फिर लगा ऐसे आज रात भी पराइ हुई
सोच रहा था खवाबो के बारे में
                                                         आ के टोका आंसुओ की धारो ने
                                                           पूछने लगे बहते हुए सारे
                                                          किया आज भी थे खामोस
                                                               सपने में वो तुम्हारे,
                                       She was happy to far from me,”Live Happy my Life”